राजस्थान पशुपालन लोन योजना २०१९-२० डेयरी/भैंस पालन आवेदन फार्म

राजस्थान पशुपालन लोन योजना २०१९-२० आवेदन फार्म | Pashupalan Loan Yojana Rajasthan | पशुपालन स्कीम 2019 | भैंस पालन लोन योजना | डेयरी लोन राजस्थान | नाबार्ड डेयरी योजना राजस्थान।

दोस्तों राजस्थान में रहने वाले पशुपालकों के लिए एक खुशखबरी है| राजस्थान सरकार ने पशुपालन के लिए एक नई योजना की घोषणा की है| योजना का नाम राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 रखा गया है| इस योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार पशु पालने के लिए 12 लाख रुपए तक का लोन दिलाएगी| पशु पालने के लिए दिए जाने वाले इस लोन पर सरकार 50% तक की सब्सिडी देगी| इस योजना का गठन सरकार ने पशु पालन को बढ़ावा देने के लिए किया है| ताकि राज्य में डेयरी उद्योग की प्रगति हो| तथा जो किसान पशु पाल पर है और डेरी के क्षेत्र में काम करते हैं उन्हें स्वरोजगार मिले| इस योजना की घोषणा कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने की है|

राजस्थान पशुपालन लोन योजना २०१९

योजना की घोषणा कामधेनु विश्वविद्यालय अंजोरा मैं दीक्षांत समारोह में की गई| दोस्तों इस लेख में हम आपको बताएंगे कि राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 आखिर है क्या| इसका लाभ आप किस प्रकार से उठा सकते हैं और कितना अनुदान दिया जाता है| योजना से जुड़ी इस तरह की अन्य जानकारियां भी सा लेख में नीचे दी गई है| राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 राजस्थान के पशुपालन करने वाले किसानों के लिए एक वरदान की तरह है| इस योजना की मदद से स्वरोजगार पा सकेंगे और अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर पाएंगे| जैसे कि पहले भी बताया गया है इस योजना में सरकार बैंकों से पशु पालने के लिए 1200000 रूपए तक का लोन उपलब्ध करवाएगी| दिए जाने वाले लोन पर सरकार सब्सिडी प्रदान करेगी जो कि लोन का 50% हिस्सा होगा|

राजस्थान पशुपालन लोन योजना

पशुपालन लोन योजना राजस्थान की घोषणा करते समय कृषि मंत्री ने कहा कि यह लोगों को रोजगार दिलाने में सहायक होगा। योजना की घोषणा हो जाने के बाद नोटिफिकेशन लगभग 20 दिनों में आ जाएगी| जो लोग अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग से आते हैं उनके लिए सरकार ने विशेष प्रावधान रखा है| इस योजना के तहत ऐसे वर्ग से आने वाले पशु पालन करने वाले किसानों को सरकार 66% तक की लोन पर सब्सिडी प्रदान करेगी| आधिकारिक नेट यूनिफिकेशन योजना की जल्द ही सरकार द्वारा जारी की जाएगी।

जाने – गोपालक योजना

Pashupalan Loan Yojana Rajasthan

  • घोषित की गई योजना का नाम – पशुपालन लोन योजना 2019
  • संबंधित राज्य – राजस्थान
  • लोन पर मिलने वाली सब्सिडी – 50% से 66% तक
  • दिए जाने वाले लोन की रकम – 12 लाख रुपए तक
  • घोषणा की गई – कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल द्वारा
  • संबंधित विभाग – पशुधन विकास विभाग
  • योजना का मकसद – पशु पालन करने वाले किसानों को स्वरोजगार प्रदान करवाना
  • योजना शुरू की गई – पशु पालन करने वाले किसानों के लिए

राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 की घोषणा करते समय अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति वर्ग के किसानों का विशेष रूप से ध्यान रखा गया है| ऐसे वर्क के पशु पालन करने वाले किसानों के हित को देखते हुए सरकार उन्हें सब्सिडी मैं अधिक अनुदान देगी| ऐसे किसानों को सरकार द्वारा 66% तक का लोन पर अनुदान दिया जाएगा| जो भी किसान इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें यह जानना जरूरी है कि उन्हें इसके लिए बैंकों में लोन लेने के लिए आवेदन करना होगा| योजना के अंतर्गत उन्हें सरकार बैंकों से 12 लाख रुपए तक का लोन दिलाएगी| दिए गए लोन से किसानों को पशु खरीदने होंगे और डेयरी की स्थापना करनी होगी| बैंक पशुओं और खोली गई डेयरी का सत्यापन करेगी| इसके पश्चात वह रिपोर्ट पशुधन विकास विभाग को सौंपेगी|

रिलेटेड- कान्हा गौशाला एवं बेसहारा पशु आश्रय योजना

राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 सब्सिडी की प्रक्रिया

दोस्तों राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 के अंतर्गत लोन पाने की प्रक्रिया बहुत ही सरल है| प्रिया कुछ इस प्रकार से है:-

सबसे पहले आपको बैंक पर जाकर लोन के लिए आवेदन करना होगा|

आवेदन करने के पश्चात बैंक आपको 1200000 रु तक का लोन देगी|

इसके पश्चात आपको लोन की उस रकम से पशुओं को खरीदना होगा और डेयरी इकाई की स्थापना करनी होगी|

डेरी स्थापित हो जाने के बाद बैंक खरीदे हुए पशुओं और डेयरी को सत्यापन करेगी|

इसके बाद पशुधन विकास विभाग को बैंक रिपोर्ट सौंपेगी|

इसके बाद पशुधन विकास विभाग बैंकों को सब्सिडी या अनुदान राशि प्रदान करेगी|

एक बार बैंक को अनुदान राशि मिल जाने के बाद आवेदक को उसका लाभ मिलेगा|

Related – गोबर धन योजना २०१९

पशुपालन लोन हेतु जानकारी

  1. योजना के अंतर्गत राज्य सरकार बैंकों से किसानों को पशु पालने के लिए 12 लख रुपए तक का लोन देगी|
  2. मिलने वाले बैंकों के लोन पर सरकार 50% तक की सब्सिडी देगी|
  3. अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के ऊपर के किसानों को सरकार 66% तक की अनुदान राशि प्रदान करेगी|
  4. सूचना के लिए सरकार ने राज्य में कुल 7 कृषि केंद्रों मैसेज 4 में इसकी स्थापना कर दी है|
  5. यही योजना पहले से चलाई जा रही थी उस भगत सरकार 500000 रु तक का लोन ही दे दी थी| लेकिन अब इसे बढ़ाकर 1200000 रु तक कर दिया है|
  6. पहले चलाई जाने वाली योजना में 25% तक की सब्सिडी प्रदान की जाती थी जिसे अब बढ़ाकर 50% कर दिया है|

Pashupalan Loan Yojana के लाभ

  • इस योजना से लोगों में पशु पालने के व्यवसाय की तरफ रुझान बढ़ेगा।
  • राज्य के डेहरी इंडस्ट्री का विकास होगा।
  • किसानों को स्वरोजगार मिलेगा।
  • वैसे पशुपालन बंद करने वाले किसानों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
  • बेरोजगारों को रोजगार का नया अवसर मिलेगा।
  • किसान आत्मनिर्भर बन पाएंगे।

यह भी जाने – राजस्थान सरकार की योजनाएं

पशुपालन लोन योजना राजस्थान सब्सिडी – आवेदन फॉर्म

  1. राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 के अंतर्गत सरकार जल्द ही नोटिफिकेशन को जारी करेगी|
  2. इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको बैंकों में आवेदन करना होगा जिसका फॉर्म बैंक में ही उपलब्ध होगा|
  3. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  4. आधिकारिक वेबसाइट का लिंक अभी उपलब्ध नहीं है लेकिन जल्दी उपलब्ध करवाया जाएगा|
  5. इसके पश्चात आवेदन फॉर्म को भरकर आपको उसके साथ मांगे के दस्तावेजों को जोड़ना होगा|
  6. इसके बाद उसे सबमिट करना होगा| अधिक जानकारी के लिए
    suraaj.rajasthan.gov.in/en/ पर लॉगिन करे.

तो यह थी अब तक की राजस्थान पशुपालन लोन योजना 2019 से संबंधित संपूर्ण जानकारी| जैसे ही योजना से जुड़ी अन्य जानकारी जैसे की आधिकारिक वेबसाइट और ऑनलाइन आवेदन करने की जानकारी आती है उसे हम इस लेख में प्रकाशित करेंगे| इसलिए हमारे साथ बने रहे| और हमारे साथ बने रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें| अगर आपके मन में कोई प्रश्न है तो वह भी आप हमसे पूछ सकते हैं| हम उसका समाधान करने का प्रयत्न करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *