अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश 2019|प्रोत्साहन 2.5 लाख|आवेदन फार्म

अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश 2019 प्रोत्साहन 2.5 लाख आवेदन फार्म | inter caste marriage scheme mp in hindi | antarjatiya vivah yojana madhya pradesh | अंतर जाति विवाह लाभ आवेदन फार्म mp एवं अनुदान राशि, पात्रता, जरूरी दस्तावेज जाने यहाँ से.

आज हम आपको जिस योजना की जानकारी देने जा रहे है उस योजना का नाम है अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश। जी हाँ मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन देने के लिए शुरू किया है। इसलिए इसे मध्यप्रदेश अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के नाम से भी जाना जाता है। जिसके लाभ के लिए आप ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। जानकारी के लिए आपको बता दे की हाल ही मे मध्यप्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री जी ने राज्य के निवासियों के लिए अंतरजातीय विवाहयोजना को शुरू किया है। इस योजना के तहत जो लोग अपनी जाति के बाहर किसी दूसरी जाति के लड़के या लड़की से शादी करते है उन्हे राज्य सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाएगी।

अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश 2019

अंतरजातीय विवाह को हम इंटर कास्ट मैरेज के नाम से भी जानते है। तो हम आपको इस आर्टिक्ल के जरिये बताएँगे की कोन से दंपति है जो शादी के बाद इस अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना  के तहत लाभ ले सकते है। हम आपको इस योजना से जुड़ी इसकी पात्रता, लाभ , कागजात की जानकारी इत्यादि की जानकारी देंगे। यह भी बताएँगे की कैसे और कहा से आपने ऑनलाइन आवेदन के लिए जाना है। तो आइये अधिक जाने मध्यप्रदेश अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश 2019।

inter caste marriage scheme mp in hindi

वैसे तो इस योजना को शुरू हुए काफी समय बीत चुका है। और हर साल कई विवाह उपरांत दंपति इस योजना से जुड़कर आर्थिक मदद ले रहे है। तो आपको बता दे की मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने ही इस योजना को लोगो के हित मे शुरू किया है। ताकि इस तरह के अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहन मिल सके। इस योजना के तहत पात्र लोगो को राज्य सरकार की तरफ से कुल 2.5 लाख रुपए तक की आर्थिक मदद दी जाएगी। ताकि नवदंपति को शादी के बाद अपना घर बसाने के लिए किसी भी प्रकार की कोई मुश्किल ना हो।

अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश 2019

तो इस योजना के बारे मे आपको यह भी पता होना  चाहिए की आखिर अंतरजातीय विवाह यानि के इंटर कास्ट मैरेज क्या होती है। वैसे माने तो कुछ लोग इसे कोर्ट मैरेज भी कहते है। तो आइये पहले जाने की अंतरजातीय विवाह होता क्या है।

अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश क्या है?

आजकल के जमाने मे हर कोई अपनजीवन साथी का चुनाव खुद ही कर रहा है। और हमारे युवा साथी का चुनाव करते हुए यह नहीं देखते की लड़का या लड़की कोन सी जात का है। जब कोई ऊंची जाति का लड़का या लड़की अपने से नीची जाति के लड़के या लड़की से शादी करते है तो उसे अंतरजातीय विवाह कहते है। यह शादी ज़्यादातर प्रेम विवाह मे होती है, जो की घर वालो के खिलाफ जाके कोर्ट मे की जाति है। फिर कई बार समाज एसी शादियो को अपने समाज मे जगह नहीं देते है। एसे मे घर वाले भी नई शादी की दंपति को घर से निकाल देते है।

शादी के बाद अब यह दंपति कैसे अपना न्या जीवन शुरू करेगी और कहसा जाएगी। इसीलिए इन जोड़ो को प्रोत्साहन और मदद करने के लिए मध्यप्रदेश की राज्य सरकार ने इस योजना को शुरू किया है। ताकि इस योजना के तहत मिलने वाली राशि के साथ दंपति अपने जीवन की शुरुआत कर सके और अच्छे से रह सके।

मध्य प्रदेश इंटर कास्ट मैरिज के फायदे :-

वैसे तो हर योजना को लोगो के लाभ और फायदे के लिए ही शुरू किया जाता है। लेकिन कई बार कुछ लोगो को फाइदा होता है कई लोगो को नहीं। तो हम आपको बताने जा रहे है की मध्य प्रदेश अंतरजातीय विवाह योजना 2019 के क्या लाभ है।

  1. जब कोई अपनी जाति से बाहर जाके किसी अन्य जाति मे शादी करता है तो घर वाले और समाज की तरह से उन्हे किसी प्रकार का कोई सहयोग नहीं दिया जाता है। एसे मे राज्य सरकार इस योजना के तहत उनकी मदद करने वाली है।
  2. इस योजना के तहत अंतरजातीय विवाह करने वाले नव दंपति को राज्य सरकार 2.5 लाख रुपए तक की आर्थिक सहायता देने वाली है।
  3. इस राशि से कोई भी शुरू के दिनो मे अपना घर अच्छे से बसा के आगे की ज़िंदगी को बेहतर कर सकता है।
  4. अंतरजातीय/प्रेम विवाह करने वालो को इस योजना के तहत आर्थिक एवं सामाजिक रूप से सुरक्षा प्रदान करना ही राज्य सरकार का मकसद है।
  5. इससे देश मे बढ़ रही जाति भेद भाव भी कम होगा।

अंतरजातीय विवाह मध्य प्रदेश के लिए पात्रता:-

  • शादी करने वाली दंपति मध्यप्रदेश की स्थायी निवासी होनी चाहिए।
  • शादी करने वाली दंपति की आयु 35 साल से ऊपर नहीं होनी चाहिए।
  • यह दोनों की पहली शादी होनी चाहिए।
  • दोनों के खिलाफ कोई भी कोर्ट केस नहीं होना चाहिए।
  • आपको इस योजना के तहत लाभ लेने के लिए एक साल के भीतर शादी के बाद ऑनलाइन आवेदन करना है।

योजना के तहत मिलने वाली अनुदान राशि:-

इस योजना के तहत आवेदन करने और पात्र दंपति को 2.50 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि राज्य सरकार के द्वारा दी जाएगी। यह राशि एक एफ़डी के रूप मे दी जाएगी। दोनों का स्युंक्त खाता मे यह राशि सरकार के द्वारा जमा की जाएगी। जिसके तहत दोनों इस राशि को अपने दांपत्य जीवन के लिए इस्तेमाल कर सके।

क्या दस्तावेज़ चाहिए अंतरजातीय विवाह हेतु:-

  • आपको इस योजना के लाभ के लिए स्थायी निवासी प्रमाण पत्र जोकि बोनाफाइड प्रमाण पत्र हो चाहिए ।
  • जोड़े का आधार कार्ड और वोटर कार्ड जरूरी है।
  • दोनों का आयु और कास्ट सर्टिफिकेट जरूरी है।
  • दंपति का आय प्रमाण पत्र ।
  • विवाह संबन्धित दस्तावेज़।
  • शादी के बाद का दोनों का साथ का फोटो।

Related:- कृषि उपकरण अनुदान योजना

अंतरजातीय विवाह योजना मध्यप्रदेश आवेदन फार्म

  • योजना के लाभ के लिए आपको सबसे पहले एक साल के भीतर ही ऑनलाइन आवेदन करना जरूरी है।ऑनलाइन आवेदन के लिए आपको आधिकारिक वैबसाइट पर जाना होगा।
  • इस आधिकारिक वैबसाइट पर आपको अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना का आवेदन फॉर्म दिखाई देगा।
  • फॉर्म को ध्यान से पढ़िये और भर कर सबमिट कर दीजिये।
  • सारी जानकारी एकदम सही होनी चाहिए। किसी भी गलती के कारण आपका आवेदन फॉर्म रद्द हो सकता है।
  • तो इस तरह आप योजना का लाभ ले सकते है।
  • अधिकारी पोर्टल:- यहाँ से पढ़े.

Related info:- अंतरजातीय विवाह योजना महाराष्ट्र

आपको अंतरजातीय विवाह योजना 2019 मध्यप्रदेश की जानकारी अच्छी लगी तो हमे बताए। आप हमे कमेंट करके अपने बिचार दे सकते है। अधिक जानकारी और राज्य की बाकी सरकारी योजनाओ के लिए हमारे साथ बने रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *